अल्मोड़ा… चौक बाजार में राम का रथ रुका, रावण का पुतला जलाने कोे लेकर……

खबर शेयर करें

अल्मोड़ा। अल्मोड़ा का दशहरा महोत्सव पूरे देश में फेमस है। यहां पर हर साल रावण परिवार के 25 से अधिक पुतले बनाये जाते हैं। इस बार बाजार में आपसी विवाद के बाद रावण का पुतला बनाने वाले समिति ने रावण का पुतला जलाने से
इंकार कर दिया। समिति ने दशहरा महोत्सव समिति के खिलाफ खूब नारेबाजी की। बाद में दशहरा महोत्सव समिति के संयोजक कैलाश गुरूरानी के मामले में हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ।

दरअसल विवाद शाम को उस वक्त हुआ जब एक पुतला समिति के एक युवक ने रावण पुतला समिति के नंदादेवी निवासी धनंजय से अभद्रता कर दी। धनंजय ने बताया कि एक युवक ने पहले उनका हाथ पकड़ा। फिर वह कमीज फाड़ने लगा। उन्होंने बताया कि इसकी जानकारी उन्होंने दशहरा महोत्सव समिति को दी। दशहरा महोत्सव समिति से अभद्रता करने वाला युवक जिस पुतला समिति से है। उस पुतले को बाहर करने की मांग।

यह भी पढ़ें 👉  अचानक घर में जा घुसा बाघ, लोगों में फैली दहशत, हमले में तीन वन कर्मी घायल

उनका आरोप है कि दशहरा महोत्सव समिति ने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की। इसके बाद चौक बाजार में विरोध में रावण के पुतले को रोका गया। इस वजह से राम का रथ भी चौक बाजार में रूक गया।

यह भी पढ़ें 👉  कृषि विभाग को मिले इतने कर्मचारी, सीएम ने दिए नियुक्ति पत्र

इस मामले की जानकारी मिलने पर पुलिस और दशहरा समिति के पदाधिकारी भी मौके पर आये। संयोजक कैलाश गुरूरानी ने बताया कि मौके पर जाकर बात करने के बाद मामले को सुलझा लिया गया है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद