आयुष्मान भव:…. प्रदेश की 70 विधानसभा क्षेत्र और 4 राजकीय मेडिकल कॉलेजों में लगाये गये रक्तदान शिविर

खबर शेयर करें

देहरादून।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में आज से प्रदेशभर में सेवा पखवाड़ा मनाया जाएगा, जिसका विधिवत शुभारंभ सूबे के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने राजकीय दून मेडिकल कालेज से किया। इसके साथ प्रदेश की समस्त 70 विधानसभा क्षेत्रों एवं तीन अन्य राजकीय मेडिकल कालेजों में रक्तदान शिविर आयोजित किये गये हैं जिनमें स्वैच्छिक रक्तदान के लिए लोग बड़ी संख्या में भाग ले रहे हैं।

राजकीय दून मेडिकल कालेज में आयुष्मान भव: अभियान अंतर्गत आयोजित स्वैच्छिक रक्तदान शिविर में स्वास्थ्य मंत्री डॉ रावत ने 50 से अधिक बार रक्तदान कर चुके रक्तदाताओं को सम्मानित किया। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री  के 74वें जन्मदिवस के अवसर पर आज प्रदेशभर में 74 जगह रक्तदान शिविर आयोजित किए जा रहे हैैं। उन्होंने बताया कि आयुष्मान भव: अभियान आगामी दो अक्टूबर तक संचालित किया जाएगा। जिसके तहत हर विधानसभा क्षेत्र में 10-10 रक्तदान शिविर आयोजित किए जाएंगे। जिसमें स्वयंसेवी संस्थाएं, एनएसएस, रेडक्रास सोसाइटी, स्काउट-गाइड्स, रोवर-रेंजर्स के साथ ही स्वास्थ्य, शिक्षा, शहरी विकास, पंचायतीराज, महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि भी प्रतिभाग करेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  जुड़वा भाई ने भाई की ही कर दी हत्या, ये बताई जा रही वजह

उन्होंने बताया कि राज्य में रक्तदान के लिए दो लाख लोगों के पंजीयन का लक्ष्य है। इसके अलावा नेत्रदान,अंगदान,देहदान के लिये दस हजार लोग को शपथ दिलाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि अंगदान करने वालों के लिए सरकारी अस्पतालों में दधिचि वार्ड बनाए जाएंगे और उन्हें विशेष कार्ड भी दिया जाएगा।  इस अवसर पर निदेशक  चिकित्सा शिक्षा एवं मेडिकल कालेज के प्राचार्य डा. आशुतोष सयाना, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. संजय जैन, रेडक्रास सोसाइटी के महासचिव डा. एमएस अंसारी, महेंद्र भंडारी सहित मेडिकल छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद