देर आए, दुरूस्त आए……..कुंभकर्णीय निंद्रा से जागा प्रशासन, स्कूली वाहनों पर हुई यह कार्रवाई

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। निजी स्कूलों की लापरवाही पर प्रशासन ने देर आए दुरूस्त आए वाली कहावत को चरितार्थ करते हुए कुंभकर्णीय निंद्रा तोड़ दी है। लगातार हादसों के बाद बुधवार को प्रशासनिक अमला सड़क में उतर आया और अभियान छेड़ दिया। जिसमें  टीम ने दर्जनों बसों का चालान काटा है, वहीं दो बसों को सीज कर दिया। 

बता दें कि सोमवार को शहर के एक निजी स्कूल की बस डिवाइडर पर चढ़ गई। गनीमत रही कि हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ। वहीं बुधवार को भी लालकुआं के पास एक स्कूल हादसे का शिकार हो गई। लगातार हो रहे हादसों के बाद प्रशासन की आंख खुली और उसने परिवहन विभाग के साथ मिलकर स्कूल बसों के खिलाफ कार्रवाई के लिए बुधवार को अभियान छेड़ दिया।

यह भी पढ़ें 👉  मुख्यमंत्री के निर्देश- कानून व्यवस्था का हो अनुपालन से पालन

सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह के नेतृत्व में चले अभियान के दौरान वाहनों की फिटनेस, कागजात, सुरक्षा मानकों की पड़ताल की गई। टीम ने दर्जनों बसों का चालान काटा और दो बसों को सीज कर दिया। प्रशासन ने स्कूल प्रबंधन को हिदायत दी है कि कि अगर बच्चों की जिंदगी से खिलवाड़ होता पाया गया तो निजी स्कूल प्रबंधन की खैर नहीं। उन्होंने कहा कि अभियान लगातार जारी रहेगा।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद