भीम आर्मी ने राज्यपाल और सीएम को भेजा ज्ञापन, कहा-पक्के मकानों को ध्वस्त करने का आदेश सरासर गलत

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। मेट्रोपोल क्षेत्र में 134 परिवारों को उजाड़े जाने के विरोध में भीम आर्मी कार्यकर्ताओं ने डीएम कैंप कार्यालय में प्रदर्शन कर राज्यपाल और मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया। जिसमें इस आदेश पर तत्काल रोक की मांग की गई है।

जिलाध्यक्ष नफीस अहमद खान के नेतृत्व में जिलाधिकारी के माध्यम से भेजे गए ज्ञापन में गया है कि जहां एक ओर भारत सरकार 2022 तक प्रत्येक भारतीय को पक्का मकान देने आश्वासन देकर सत्ता में आई है। वहीं दूसरी ओर कई पीढ़ियों से निवास कर रहे भारत के नागरिकों के बने बनाए पक्के मकानों को ध्वस्त करने का आदेश सरासर जनता के साथ धोखा है।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद: यहां पहाड़ में दुल्हन की डोली की जगह अर्थी उठी, नाचते नाचते मौत

ज्ञापन में यह भी कहा गया है कि उक्त स्थान पर निवास कर रहे निवासियों का स्पष्ट कहना है कि उक्त संपत्ति राजा मेहमूदाबाद की थी, जिसे स्थानीय प्रशासन शत्रु संपत्ति बताकर कमजोर तबके के लोगों को उजाड़ने पर तुला हुआ है। ज्ञापन के माध्यम से राज्यपाल और मुख्यमंत्री से मेट्रोपोल में निवास कर रहे लोगों की पीड़ा को देखते हुए इस मसले का उचित समाधान निकालने के साथ ही पुर्नवास की मांग की गई है। ज्ञापन देने वालों में जीआर टम्टा, नफीस अहमद खान, हरीश लोधी, रिजवान गुडडू, गौविंद गौतम, गजेंद्र पाल सिंह, विकास कुमार, सुलेमान मालिक आदि मौजूद रहे। 

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद