चमोली हादसा अपडेट: एक दरोगा और तीन होमगार्ड की भी मौत, ये है मृतकों की सूची

खबर शेयर करें

देहरादून। चमोली हादसे में बड़ा अपडेट सामने आया है। इस हादसे में एक दरोगा समेत तीन होमगार्ड के जवानों की भी मौत हो गई। हादसे पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गहरा दुःख जताया है। वह घटना स्थल के लिए देहरादून से निकले। लेकिन मौसम खराब होने की वजह से वापस लौट गए हैं।

चमोली के पीपलकोटी में हुए हादसे को लेकर एडीजी ने मीडिया को बयान जारी करते हुए बताया कि देर रात चमोली के पीपलकोटी के नमामि गंगे प्रोजेक्ट में एक हादसा हुआ था। जिसमे एक युवक की मौत हो गई। जिसका पंचनामा भरने के लिए पुलिस की टीम सुबह मौके पर पहुंची थी। मृतक के परिजन भी घटनास्थल पर मौजूद थे। इस दौरान अचानक सुबह एक बार फिर करंट फैल गया। उन्होंने कहा कि इस दौरान 22 लोग करंट की चपेट में आए। जिनमें से 15 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि 7 को घायल अवस्था में अस्पताल ले जाया गया। जिनमें से दो को हेलीकॉप्टर के जरिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। उन्होंने आगे बताया कि इस पूरे मामले की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- दो पक्षों में खूनी संघर्ष, बदमाश से कराई फायरिंग, एक की मौत

मृतकों की सूची
उप निरीक्षक प्रदीप रावत चौकी पीपलकोटी
होमगार्ड मुकंदे राम s/o श्यामदास निवासी हरमानी चमोली उम्र 55

होमगार्ड गोपाल s/o माधव सिंह निवासी ग्राम रूपा चमोली उम्र 57 वर्ष

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में कल के लिए ये रहेगा ट्रैफिक प्लान, पढ़े खबर

होमगार्ड सोबत लाल निवासी ग्राम पाडुली

सुमित पुत्र स्वर्गीय चंद्र सिंह अस्वाल निवासी ग्राम रांगतोली चमोली उम्र 25 वर्ष

सुरेंद्र पुत्र विजय लाल निवासी

हरमानी चमोली उम्र उम्र 33

देवी लाल पुत्र असील दास निवासी हर्मनी उम्र 45 वर्ष

योगेंद्र सिंह पुत्र महिपाल सिंह निवासी हर्मनी

सुरेंद्र सिंह रावत पुत्र स्वर्गीय गोपाल सिंह निवासी हर्मनी उम्र 38 वर्ष

विपिन पुत्र सोबत निवासी पाटोली गोपेश्वर उम्र 26 वर्ष

मनोज कुमार निवासी हर्मनी उम्र 38 वर्ष

सुखदेव पुत्र एलम दास ग्राम रंगतोली चमोली उम्र 33 वर्ष

प्रमोद कुमार पुत्र सुदामा लाल निवासी हर्मनी

दीपू कुमार पुत्र महेंद्र लाल निवासी हर्मनी उम्र 33

महिपाल पुत्र दुर्लप सिंह निवासी ग्राम रंगतोली उम्र 60 वर्ष

यह भी पढ़ें 👉  बेचने ले जा रहा था गांजे की खेप, इतने लाख बताई जा रही कीमत

ये बताया जा रहा है

बताया जाता है कि रात में यहां रहने वाले केयर टेकर का सुबह फोन नहीं लग रहा था। जिसके बाद परिजनों ने साइट पर आकर खोजबीन की। तब सामने आया कि केयर टेकर की करंट लगने से मौत हुई है। सूचना मिलते ही परिजनों के साथ कई ग्रामीण भी साइट पर पहुंच गए। जब वह यहां पहुंचे तो पुलिस मामले की जांच कर रही थी। इस दौरान वहां दोबारा से करंट फैल गया। जिसकी चपेट में कई लोग आ गए। बताया जाता है हादसे में अब तक 16 लोगों की मौत हो गई है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद