आयुक्त के निर्देश….सीएम की लंबित घोषणाओं पर हो त्वरित कार्यवाही

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। आयुक्त दीपक रावत ने मण्डलीय जिलाधिकारियों के साथ ही एसएसपी, प्रभागीय वनाधिकारियों के साथ वीसी के माध्यम से मण्डल में विकास कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रोें मेे राजस्व निरीक्षकों (पटवारी) का गठन किया जाना है उन स्थानों का चिन्हिकरण करना सुनिश्चित करें। क्षेत्रों मेें पटवारियों की चौकियों की मरम्मत के सम्बन्ध में जानकारी लेते हुये आपदा न्यूनीकरण के अन्तर्गत प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये।

उन्होंने जनपदों में लम्बित मुख्यमंत्री घोषणा के सम्बन्ध में जानकारी ली तथा जिलाधिकारियो को इस सम्बन्ध में निर्देश दिये कि लम्बित सीएम घोषणा पर त्वरित कार्यवाही की जाए। इसके साथ ही भूमि के वर्ग 154,157 एवं 168 के लम्बित मामलों के निपटारे जांच कर निपटाये जायें । किसी भी दशा में भूमि के मामले तहसील स्तर पर लम्बित नहीं रहने चाहिए। उन्होंने कहा सीलिंग केस, नजूल फ्री होल्ड भूमि पर नियमानुसार कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि स्टाम्प केस के सम्बन्ध में वेरिफिकेशन प्रत्येक माह करने, एसएसपी को थानों एवं चौकियों में निष्प्रयोज्य वाहनों का निस्तारण करने के निर्देश दिए। उन्होेने वनाधिकारियों को निर्देश दिये कि जंगली जानवरों से जनहानि के जितने भी केस हैं उनका शीघ्र निस्तारण करना सुनिश्चित करें।

यह भी पढ़ें 👉  गौकशी रोकने पहुंची पुलिस पर फायरिंग, गोली लगने से गैंगस्टर घायल

उन्होने पुलिस महकमे के अधिकारियों को निर्देश दिये कि बाहरी लोगों का सत्यापन अभियान के साथ ही सम्बन्धित विभागों के साथ समन्वय बनाकर चैकिंग की जाए। साथ ही बिना सत्यापन किये लोगों के खिलाफ कार्यवाही भी अमल मे लाई जाए। उन्होंने पुलिस विभाग के साथ ही परिवहन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि रात्रि 8 बजे के बाद नियमित चैकिंग की जाए जिससे रात में होने वाली घटनाओं पर रोक लगाई जा सके।  उन्होंने कहा मण्डल में खनन एवं वसूली के जितने भी मामले लम्बित है उनमें त्वरित कार्यवाही कर राजस्व वसूली की जाए। उन्होेने कहा सभी उपजिलाधिकारी प्रत्येक माह इसकी समीक्षा कर जिलाधिकारी को रिपोर्ट प्रस्तुत करे। 

यह भी पढ़ें 👉  अरविंद केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका, राहत से किया इनकार

उन्होेने कहा कि सभी प्राधिकरण में पिंक टाइलेट के बारे में प्रगति की समीक्षा की। उन्होने जलजीवन मिशन के अन्तर्गत उधमसिंह नगर में जो कार्य संचालित हो रहे हैं वे कार्य पंजीकृत एजेंसियों से ही कराने के निर्देश दिये। साथ ही पानी की गुुणवत्ता की टैस्टिग एवं सैम्पलिंग भी करने के निर्देश दिये। उन्होेंने शहरों के साथ ही ग्रामों में फूड टैस्टिग हेतु टास्कफोर्स टीम गठित कर नियमित चैकिंग कराने के निर्देश वीसी मे दिये। उन्होेने कहा कि उधमसिंह नगर में सडक दुर्घटनायें अधिक होने पर दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु लोगों को जागरूक कर मार्ग में साइनेज बोर्ड के साथ ही पुलिस एवं परिवहन विभाग द्वारा चैकिंग नियमित की जाए ताकि सडक दुर्घटनाओं पर  लगाम लगाई जा सके।  वीसी में मण्डल के समस्त जिलाधिकारी एवं एसएसपी, वनाधिकारी तथा मण्डलीय अधिकारी  उपस्थित थे।              

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद