भाजपा के इस वरिष्ठ नेता के लिए कांग्रेसी नेत्री ने दिया यह बड़ा बयान, कहा-चुल्लू भर पानी में डूब मरे

खबर शेयर करें

देहरादून। 1982 से अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत करने वाली बिशन सिंह चुफाल जो कि ग्राम प्रधान, ब्लॉक प्रमुख जिला अध्यक्ष ,कुमाऊं मंडल विकास निगम के अध्यक्ष, तीन बार के काबीना मंत्री और छह बार से डीडीहाट से विधायक को चुल्लू भर पानी में डूब मरना चाहिए यह कहना है उत्तराखंड कांग्रेस की मुख्य प्रवक्ता गरिमा मेहरा दसौनी का।

मुख्य प्रवक्ता गरिमा मेहरा दसौनी ने सोमवार को कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस वार्ता कर पिथौरागढ़ जिले की जर्जर होती स्वास्थ्य व्यवस्थाओं पर धामी सरकार को आइना दिखाया। मुख्य प्रवक्ता गरिमा मेहरा दसौनी ने कहा की डीडीहाट और टनकपुर जो की मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की जन्म और कर्मस्थली दोनों रहे हैं उस डीडीहाट के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एक्सरे मशीन और अल्ट्रासाउंड के लिए स्थानीय लोग दर दर की ठोकरें खा रहे हैं। गर्भवती प्रसूता महिलाएं भगवान भरोसे हैं। डीडीहाट का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रेफर केंद्र बन चुका है, वहां आने वाले हर मरीज को पिथौरागढ़ रेफर कर दिया जाता है । पिथौरागढ़ जाने के लिए डीडीहाट के लोगों को ढाई से 3000 की गाड़ी करनी पड़ती है और लगभग उतना ही खर्चा गर्भवती महिलाओं को अल्ट्रासाउंड करवाने में पड़ता है जो कि इस महंगाई के दौर में उनके ऊपर वज्रपात की तरह है।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद: अल्मोड़ा के शिक्षक और सिदार्थ पार्लर की संचालिका के पति का निधन

गरिमा मेहरा दसौनी ने कहा कि अंत्योदय की बड़ी-बड़ी बातें करने वाली भाजपा ने ग्रामीण अंचलों के लोगों को भगवान भरोसे छोड़ दिया है। दसौनी ने पिथौरागढ़ अस्पताल का हवाला देते हुए कहा कि जिस पिथौरागढ़ के अस्पताल में मरीजों को भेजा जा रहा है वहां के डॉक्टर के मुन्ना भाई होने की पुष्टि हुई है। ऐसे में डीडीहाट कि वनराज जनजाति स्वास्थ्य सेवाओं के अभाव में जीवन जीने को मजबूर है। डीडीहाट का सामुदायिक केंद्र उनके घरों से 9 किलोमीटर दूर है। दसौनी ने कहा कि चुफाल हर सरकार में मंत्री पद पर शोभायमान रहे हैं भाजपा के प्रधान से लेकर प्रदेश अध्यक्ष तक रहे हैं ऐसे में यदि वह अपनी विधानसभा को एक अदद एक्स रा और अल्ट्रासाउंड मशीन तक मुहैया नहीं करवा पा रहे हैं तो उन्हें जनप्रतिनिधि कहलाने का कोई हक नहीं।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद: अल्मोड़ा के शिक्षक और सिदार्थ पार्लर की संचालिका के पति का निधन

गरिमा मेहरा दसौनी ने कहा कि डीडीहाट के स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ता विगत 6 दिनों से डीडीहाट के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में धरनारत हैं परंतु शासन प्रशासन में उनकी सुध लेने वाला कोई नहीं। दसौनी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मांग की है की डीडीहाट के स्वास्थ्य केदो में रिक्त पदों को शीघ्र अति शीघ्र भरा जाए, सामुदायिक केंद्र का भवन जर्जर अवस्था में है नया भवन बनाया जाए और जल्द से जल्द वहां की गर्भवती महिलाओं के लिए एक्स रे मशीन एवं अल्ट्रासाउंड मशीन की व्यवस्था की जाए। पत्रकार वार्ता के दौरान प्रवक्ता शीशपाल सिंह बिष्ट जी मौजूद रहे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद