गांव में लगी थी जागर, चचेरे भाई ने दो भाइयों पर चाकू से कर दिया हमला, एक की हो गई मौत, यहां का है मामला

खबर शेयर करें

कुमाऊं मंडल के बागेश्वर जिले में एक सनसनीखेज खबर सामने आ रही है। यहां गांव में जागर (इष्‍ट पूजा) के दौरान दो भाईयों पर चचेरे भाई ने चाकू से जानलेवा हमला कर दिया। इसमें एक की मौके पर मौत हो गई। जबकि दूसरा गम्भीर रूप से घायल हो गया। उसको उपचार के लिए हल्द्वानी रेफर किया गया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है। मामला
कपकोट तहसील के नौकोड़ी, हरसिंग्याबगड़ गांव का है।

यहां पर बीते रविवार की शाम को धाम सिंह कोरंगा के आंगन पर 40 परिवारों के बिरादरों की जागर (इष्‍ट पूजा) लगी थी। यहां पर अलाव भी जले थे। इस दौरान शंकर सिंह पुत्र मोहन सिंह और खुशाल सिंह पुत्र मोहन सिंह अलाव सेक रहे थे। चचेरे भाई वन पंचायत सरपंच चंचल सिंह पुत्र जवाहर सिंह और महेश सिंह पुत्र जवाहर सिंह भी वहां शामिल थे।

यह भी पढ़ें 👉  कैबिनेट मंत्री के काफिले के वाहन टकराए, मंत्री हुए घायल

ग्रामीणों का कहना है कि चंचल सिंह और महेश सिंह ने चाकू से आग सेक रहे शंकर सिंह (43) और उनके छोटे भाई खुशाल सिंह( 40) पर ताबड़तोड़ हमला बोल दिया। चाकू का वार शंकर सिंह सहन नहीं कर पाया। और अचेत होकर वहीं गिर गए। खुशाल भी घटना में गंभीर रूप से घायल हो गए।
शंकर सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। इससे वहां पर अफरातफरी मच गई। वहीं घायल को जिला अस्पताल बागेश्वर लाया गया। जहां से उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। घटना रविवार की रात लगभग 12.30 बजे की बताई जा रही है। कपकोट के थानाध्यक्ष प्रताप सिंह नगरकोटी ने बताया कि घटना की जांच प्रारंभ कर दी गई है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद