साइबर क्राइम…..ठगों ने सीआरपीएफ को बनाया शिकार, ठगी हजारों की रकम

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। साइबर ठगी के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इस बार ठगों ने सीआरएफ के जवान को शिकार बनाया है। उससे हजारों की ठगी की गई है। पीड़ित ने पुलिस की शरण ली है। पुलिस के साइबर सेल ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

सीआरपीएफ काठगोदाम, गौलापार में तैनात महेंद्र कापड़ी ने साइबर सेल में ठगी की शिकायत दर्ज कराई है। कहा है कि उसकी लंदन में रहने वाली अमीनिया लैरी नामक महिला से व्हाट्सएप पर बात होती थी। 6 अक्टूबर को उसके मोबाइल पर फोन कॉल आया। जिसमें बताया गया कि उसकी व्हाट्स फ्रैंड अमीनिया लैरी भारत आई है और उसे एयरपोर्ट पर कस्टम अधिकारी की कस्टडी में है।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद: अल्मोड़ा के शिक्षक और सिदार्थ पार्लर की संचालिका के पति का निधन

फोन करने वाले ने बताया कि अमीनिया को तुरंत 49 हजार 500 रूपए की जरूरत है, ताकि वह कस्टडी से बाहर आ सके। उसने बात पर भरोसा कर बताए गए खाते पर नगदी फोन पे कर दी। इसके बाद कुछ और रकम की डिमांड हुई तो वह समझ गया कि उसके साथ फ्रॉड किया जा रहा है। जिस पर उसने फौरन इसकी सूचना साइबर सेल को दी और कार्रवाई की गुहार लगाई। पुलिस के साइबर सेल ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद