उत्‍तरकाशी में बादल फटने से तबाही, नदी-नाले विकराल

खबर शेयर करें

उत्तरकाशी। प्रदेश में बारिश जमकर कहर बरपा रही है। शुक्रवार रात उत्तरकाशी में कई स्थानों पर बादल फटने की घटनाएं सामने आई हैं। बादल फटने से लोगों में हड़कंप मच गया। बादल फटने के कारण हर तरफ तबाही का मंजर है। शुक्रवार की रात को उत्तरकाशी जिले में कई स्थानों पर अतिवृष्टि और बादल फटने की घटनाएं सामने आई हैं। बादल फटने के कारण पुरोला, बडकोट और धौंतरी क्षेत्र में सड़क, रास्ते, पैदल पुलिया को नुकसान हुआ है। 

उत्तरकाशी में रात करीब दो बजे से भारी वर्षा शनिवार तक जारी रही। बड़कोट के निकट राजतर गंगनानी क्षेत्र में वर्षा से नुकसान होना बताया जा रहा है। यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग धरासू बैंड व गंगनानी में बंद है। रात करीब ढाई और तीन बजे के बीच जनपद पुरोला, बडकोट के नंदगांव और उप तहसील धौंतरी क्षेत्र में बादल फटने व अतिवृष्टि होने की सूचना मिली। वहीं बड़कोट तहसील के गंगनानी में भूस्खलन का मलबा आने के कारण एक टूरिस्ट रिजॉर्ट के कुछ कॉटेज क्षतिग्रस्त हुए हैं। कैम्प निर्वाणा नामक एक रिजोर्ट को नुकसान हुआ है। यहां पर कुछ टेंट काटेज एवं वाहन मलबे की चपेट में आए हैं। कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय के परिसर में भी मलबा घुसा है। विद्यालय में रात के समय अफरातफरी का माहौल रहा है। विद्यालय में रह रही छात्राएं काफी घबरा गई थी। विद्यालय की सभी छात्राएं सुरक्षित हैं। इसके साथ ही बड़कोट और गंगनानी के बीच कई स्थानों पर यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग अवरुद्ध है। आलवेदर रोड निर्माण कंपनी जससे सुचारू करने में जुटी हुई है।

यह भी पढ़ें 👉  तहसील के खाते से उड़ाई हजारों की रकम, ईनामी कुख्यात गिरफ्तार 

इधर पुरोला के छाड़ा खड्ड में भी बादल फटने के कारण भूस्खलन हुआ है। भूमि कटाव और कुछ घरों और दुकानों में मलबा घुस गया। शनिवार की सुबह प्रभावित लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। यहां सड़क पर खड़े वाहन भी मलबे में दबे हैं। उप तहसील धौंतरी के धौंतरी गांव के निकट भारी भू-धंसाव होने से कुछ घरों में मलबा घुसा है। जिससे मनीराम बहुगुणा, बुद्धि प्रकाश बहुगुणा, कीर्ति प्रसाद बहुगुणा के भवन को नुकसान पहुंचा। उधर कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय गंगनानी की वार्डन सरोजनी ने कहा कि रात के समय में बहुत अधिक वर्षा हुई है। आवासीय विद्यालय के परिसर में पानी और मलबा भरा। रात के समय किसी तरह से एसडीआरएफ के जवान आवासीय विद्यालय तक पहुंचे तो किसी तरह से हौसला मिला। भारी वर्षा के बीच पूरे क्षेत्र में बिजली आपूर्ति भी ठप है। बड़कोट, गंगनानी, राजतर, नंदगांव, धौंतरी, पुरोला, सुनारा छानी, छाड़ा गांव क्षेत्र में ग्रामीण और स्थानीय निवासी भय के कारण सो नहीं पाए।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद