डीएम की नगर निगम को हिदायत…..एक सप्ताह में गौशाला में भेजे जाएं आवारा सांड़

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को अतिक्रमण का सर्वे अभिलेखों और मानचित्र के तहत करने के निर्देश दिए हैं। कहा है कि इस कार्य में राजस्व विभाग के अलावा अन्य विभागों का भी सहयोग लिया जाए। विधिवत नक्शे का मिलान करने के उपरान्त ही कार्यवाही अमल में लाई जाए।

जिलाधिकारी वंदना ने गुरूवार को कैम्प कार्यालय में जनता की समस्याएं सुनी। जिसमें पेयजल, सड़क, अतिक्रमण जैसी कुल 67 शिकायतें दर्ज हुई। इनमें से अधिकांश का मौके पर ही निस्तारण किया गया। साथ ही अवशेष को जिलाधिकारी ने ‌अधिकारियों को हस्तगत किया। उन्होंने निर्दे‌श दिए कि समस्याओं का निराकरण प्राथमिकता के आधार पर किया जाए। डीएम ने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि शहर में आवारा सांडों को एक सप्ताह के भीतर गौशाला में भेजना सुनिश्चित करें। कहा कि नई गौलाशा निर्माण नगर निगम द्वारा शीघ्र किया जायेगा, ताकि आवारा पशुओं का स्थाई समाधान मिल सके। उन्होंने लोनिवि के अधिकारियों को निर्देश दिये कि लीकेज के कारण जो सड़कें खराब हो रही हैं, उन स्थानों की सूची शीघ्र जलसंस्थान को उपलब्ध कराई जाए, ताकि जलसंस्थान द्वारा लीकेज मरम्मत कार्य ससमय पूर्ण किया जा सके।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में कल के लिए ये रहेगा ट्रैफिक प्लान, पढ़े खबर

साथ ही जलसंस्थान के अधिकारियों को निर्देश दिये कि लीकेज मरम्मत करने के उपरान्त दोबारा लीकेज होने से जलसंस्थान स्वयं सड़क की मरम्मत करेगा। जनसुनवाई में विकास खण्ड ओखलकांडा क्षेत्र के लोगों ने बताया कि विकास खण्ड ओखलकांडा में बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य तथा हैड़ाखान सड़क काफी खराब हो चुकी है। जिससे लोगों को आवागमन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस पर जिलाधिकारी ने हैड़ाखान सडक मार्ग के तात्कालिक अस्थाई सुधार कार्य प्रान्तीय खण्ड नैनीताल को शनिवार से कार्य प्रारम्भ करने के निर्देश दिये। वही लोनिवि भवाली के अधिकारियों को निर्देश दिये कि आपदा से क्षतिग्रस्त भागों का सर्वे कर डीपीआर प्रस्तुत करें, ताकि आपदा मद से सडक मार्ग के खतरनाक स्थलों को ठीक किया जाए। उन्होंने कहा हैडाखान मार्ग वन भूमि हस्तान्तरण हेतु भारत सरकार को पत्र प्रेषित किया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  मौसम अलर्ट- हीटवेब के बीच बारिश को लेकर आई ये अपडेट, अलर्ट जारी

शीघ्र ही स्वीकृति मिलने के उपरान्त स्थाई समाधान किया जायेगा। नंधौर खनन समिति के लोगों ने नंधौर में खनन से पूर्व खनन रास्ते बनवाने, श्रमिकों का पंजीकरण कराने के साथ ही गेटों में पेयजल की व्यवस्था कराने का अनुरोध किया। जिस पर जिलाधिकारी ने वन विभाग के साथ ही सम्बन्धित उपजिलाधिकारी को सभी व्यवस्थायें सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। दुर्गापालपुर परमा के ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को बताया कि दुर्गापालपुरपरमा में मुख्य मार्ग पर कैनाल रोड में अतिक्रमण के कारण लोगों को आवाजाही में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों नेे कैनाल नहर से अतिक्रमण हटाने का अनुरोध किया। इस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता सिचाई को निर्देश दिये कि सर्वे कर अतिक्रमण हटाना सुनिश्चित करें।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद