डिजिटल इंडिया से बेहतर होगा छात्रों का भविष्य: डॉ. सुमिता

खबर शेयर करें

टिहरी। शहीद बेलमती चौहान राजकीय महाविद्यालय पोखरी क्वीली, टिहरी गढ़वाल के छात्रों का एनएएस शिविर ग्राम पंचायत भवन दाबड़ा में संचालित हो रहा। इसमें छात्रों को तरह तरह की जानकारी दी जा रही है। आज शिविर में असिस्टेंट प्रोफेसर भूगोल विभाग डॉ. सुमिता पंवार ने छात्रों को डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के बारे में व्याख्यान दिया।

उन्होंने कहा की डिजिटल इंडिया कार्यक्रम का उद्देश्य अपने आप में डिजिटल साक्षरता, डिजिटल संसाधनों और सहयोगपूर्ण डिजिटल प्लेटफार्म पर ध्यान केन्द्रित करके भारत को डिजिटल रूप से सशक्त समाज के रूप में परिवर्तित करना है। यह तभी संभव हो सकता है। जब युवाओं की इसमें भागीदारी रहेगी।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद: अल्मोड़ा के शिक्षक और सिदार्थ पार्लर की संचालिका के पति का निधन

क्योंकि युवा समय के साथ खुद को अपडेट करने के साथ ही परिवार और आसपास के लोगों को भी जागरूक कर सकते हैं। उन्होंने कहा की आज युवाओं को पढ़ाई में भी नई तकनीक का उपयोग करना चाहिए। कहा की छात्र पहले से पढ़ाई के लिए सिर्फ किताबों पर निर्भर रहते और कोचिंग का सहारा लेते थे। लेकिन आज छात्र यूट्यूब के माध्यम से भी पढ़ाई कर सकते हैं। लोक सेवा आयोग सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी भी घर से ही कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद: अल्मोड़ा के शिक्षक और सिदार्थ पार्लर की संचालिका के पति का निधन

डॉ. पवार ने बताया की यदि हम मोबाइल फोन और इंटरनेट का सही उपयोग करें तो यह हमारी तरक्की का मार्ग आसान कर देता है। इस दौरान एनएसएस इकाई प्रभारी सरिता सैनी, अमिता, नरेश आदि उपस्थित रहे। शिविर में 24 स्वयंसेवी भाग ले रही हैं। इससे पहले छात्रों ने गांव में सफाई अभियान चलाया। गांव के लोगों को सफाई के महत्व के बारे में बताया।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद