वन भूमि में किए गए अतिक्रमण पर बड़ी कार्रवाई, विभाग ने मुक्त कराई सात एकड़ भूमि

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। उत्तराखंड उच्च न्यायालय के आदेश के बाद वन भूमि में किए गए अतिक्रमण पर वन विभाग सख्त हो चला है।  हल्द्वानी वन प्रभाग के प्रभागीय वनाधिकारी बाबू लाल के निर्देशन में विभागीय टीम ने गौलापार स्थित कालूखेड़ा कक्ष संख्या 1 एवं गाड़खरक बीट एवं अन्य वन क्षेत्रों में किए गए अतिक्रमण पर कार्रवाई की है। टीम ने लगभग 7 एकड़ वन भूमि  को अतिक्रमण मुक्त कराया है।

अतिक्रमण मुक्त वन भूमि पर हल्द्वानी वन प्रभाग द्वारा 1500 विभिन्न प्रकार के वृक्षों का रोपण  किया गया है। उप प्रभागीय वनाधिकारी, नंधौर/शारदा,  ममता चंद ने बताया कि यह कार्यवाही उच्च न्यायालय के आदेश एवं प्रभागीय वनाधिकारी बाबूलाल द्वारा दिए गए दिशा- निर्देशों के क्रम में की गई है। आगे भी अतिक्रमण के विरुद्ध ध्वस्तीकरण की कार्यवाही जारी रहेगी।

यह भी पढ़ें 👉  विषपान से बुजुर्ग की हुई मौत, गृह कलह बताई जा रही वजह

वन भूमि पर अतिक्रमण करने वालों को किसी भी हालत में बख्शा नही जाएगा। अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही में उप प्रभागीय वनाधिकारी, नंधौर/शारदा ममता चंद,   प्रशिक्षु वन क्षेत्राधिकारी, जौलासाल एवं डाण्डा अजय लिंग्वाल,  वन क्षेत्राधिकारी छकाता सुनील शर्मा, कैलाश  गुडवन्त और भारी संख्या में हल्द्वानी वन प्रभाग की टीम दल बल के साथ मौजूद रही।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद