Subscribe our YouTube Channel

अल्मोड़ा जेल में ‘कैदियों का राज’ ?…………. जेल में एक बार फिर मिली ……

खबर शेयर करें

अल्मोड़ा। यहां जेल के अंदर एक बार फिर गड़बड़ी मिली है। मंगलवार को एसटीएफ(स्पेशल टास्क फोर्स) ने छापेमारी की। इसमें जेल के अंदर कैदियों के पास मोबाइल फोन, सिम और करीब 24 हजार की नकदी बरामद की गई। एसएसपी पंकज भट्ट ने इसकी पुष्टि की है।

करीब डेढ़ माह पहले भी एसटीएफ ने जेल में छापेमारी की थी। उस वक़्त भी गड़बड़ी मिली थी। एसएसपी पंकज भट्ट ने बताया कि मंगलवार को एसटीएफ ने जेल में छापेमारी की। इस दौरान जेल बंद आजीवन कारावास काट रहा कैदी महिपाल सिंह और एक अन्य कैदी अंकित जो बागेश्वर निवासी है। इनके पास से मोबाइल फोन, एयर फोन, एक सिम और करीब 24 नगदी बरामद की गई। यह लोग जेल में बैठकर मोबाइल के जरिए चरस, गांजें का धंधा चला रहे थे। अंकित बिष्ट कुछ समय पहले वह चरस के एक मामले में पकड़ा गया था और उसे अल्मोड़ा जेल में रखा गया था। जेल में ही उसकी कुख्यात बदमाश महिपाल से मुलाकात हुई। दोनों मिलकर चरस के धंधे को अंजाम दे रहे थे। अचानक हुई एसटीएफ की कार्रवाई के बाद जेल में बंद अन्य कैदियों समेत अधिकारियों और बंदी रक्षकों में हड़कंप मच गया।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा…पत्रकार, अधिवक्ता दिनेश पांडे का निधन

इधर बीते माह चार अक्तूबर को भी एसटीएफ की छापेमारी के दौरान कुख्यात अपराधी के बैरक से मोबाइल तीन मोबाइल और डेढ़ लाख से अधिक की नगदी बरामद की थी। बताया जाता है कि अल्मोड़ा जेल में हत्या के आरोप में आजीवन कारावास काट रहा अपराधी महिपाल कुख्यात गैंगस्टर कलीम का दोस्त है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड… दुल्हन ने कर ली आत्महत्या,10 दिन पहले हुई थी शादी…… फ़ोन में बात करने को लेकर

बीते चार अक्तूबर को एसटीएफ की अल्मोड़ा जेल में हुई छापेमारी के बाद कुख्यात गैंगस्टर को टिहरी जेल शिफ्ट कर दिया गया था। चर्चा यह भी है कि जेल में रंगदारी के साथ ही चरस गांजे का खेल चल रहा है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments