हल्द्वानी में एमबीपीजी कॉलेज पूर्व प्राचार्य बीआर पंत की पुस्तक का विमोचन…… बेहद खास है ये किताब…..

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। हल्द्वानी एमबीपीजी कॉलेज के लाल बहादुर शास्त्री सभागार में कॉलेज पूर्व प्राचार्य प्रो. बीआर पंत की पुस्तक का विमोचन किया गया। इस पुस्तक में राज्य के विकास के लिए कई महत्वपूर्ण जानकारी दी गई हैं। इस दौरान पहाड़ पुस्तक प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। जबकि प्रसिद्ध भूगोलविद और कॉलेज के पूर्व प्राचार्य बीआर पंत की पुस्तक “उत्तराखंड जनसंख्या परिदृश्य एवं परिवर्तन” के साथ ही डॉ. विवेक पंत द्वारा लिखी पुस्तक “पत्थरों में धड़कती कला- कुमाऊं हिमालय का चंदकालीन स्थापत्य” का विमोचन किया गया।

प्रो. बीआर पंत ने बताया कि किसी भी क्षेत्र की आर्थिक विकास प्रक्रिया उस क्षेत्र की जनसंख्या के स्थानिक स्वभाव से संचालित होती है। जनसंख्या के तीन स्थानिक गुण आर्थिक विकास को प्रभावित करते हैं। जिनमें पहला और महत्वपूर्ण है जनसंख्या किस भूभाग में किस दबाव एवं अनुपात के साथ निवास कर रही है। और स्थानीय, राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक व्यवस्था से पूर्णत: सामंजस्य बनाकर संतुष्ट है या नहीं। दूसरा महत्वपूर्ण कारक है जनसंख्या की स्थानिक गत्यात्मकता एवं संसाधनों तक पहुंच स्थानीय जनसंख्या को प्राप्त है या नहीं।तीसरा मुख्य कारक है जनसंख्या की आंतरिक संरचना जिसमें लिंगानुपात, आयु संरचना, शिक्षा, ग्रामीण एवं नगरीय निवास, व्यावसायिक संरचना, पलायन और सांस्कृतिक विशेषताएं समेत अन्य कारक शामिल हैं। उन्होंने बताया कि 1790 जब उत्तराखंड में गोरखा शासन आया तब राज्य की आबादी करीब दो लाख थीं। 2011 की राज्य की जनसंख्या एक करोड़ छियासी हजार 292 थी। ऐसे में 2022 की जनगणना में आबादी का आकड़ा 1 करोड़ 20 लाख हो जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  अल्पसंख्यक आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष की अपील- आवाम के लिए सौहार्दपूर्ण बनाएं माहौल

लेखक बीआर पंत ने कहा कि उत्तराखंड में आबादी बढ़ने की गति और परिवर्तनों पर जब तक सटीक अध्ययन नहीं होगा तब तक आर्थिक विकास की योजनाएं फलीभूत नहीं हो सकती हैं। ऐसे में यह पुस्तक शोधकर्ताओं के साथ-साथ विकासपरक योजनाएं बनाने में राज्य सरकार के लिए भी फायदेमंद साबित होगी।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद