दहशत से निजात………वन विभाग ने टैंकुलाइज किया बाघ, नरभक्षी होने का अंदेशा

खबर शेयर करें

नैनीताल। भीमताल व आस-पास के क्षेत्रों में नरभक्षी के आतंक के बीच एक राहत भरी खबर सामने आई है। यहां जंगलियागांव में घूम रहे बाघ को वन विभाग की टीम में लगे बाघ विशेषज्ञों ने 19 दिन बाद सोमवार की देर रात  ट्रैंकुलाइज कर ही लिया। ट्रैंकुलाइज बाघ को वन विभाग ने रानीबाग रेस्क्यू सेंटर हल्द्वानी भेज दिया है।

वन विभाग के अधिकारी ट्रैंकुलाइज किए बाघ को नरभक्षी होने का अंदेशा जता रहे हैं। हालांकि बाघ के सैंपल को डब्लूआईआई देहरादून भेजकर ही पुष्टि होने की बात कही है।वन क्षेत्राधिकारी विजय मेलकानी ने बताया कि सोमवार की रात 12 बजे जंगलियागांव में बाघ विशेषज्ञ डॉ. हिमांशु पांगती, डॉ. दुष्यंत ने अपनी टीम के साथ क्षेत्र में घूम रहे नरभक्षी बाघ को ट्रैंकुलाइज किया।

यह भी पढ़ें 👉  पिथौरागढ़ में बड़ा हादसा, अनियंत्रित होकर खाई में गिरी स्कूल बस, दो घायल

उन्होंने कहा कि बाघ को ट्रैंकुलाइज करने में बड़ी मश्क्कत करनी पड़ी। मेलकानी ने बताया कि पकड़ा गया बाघ नरभक्षी हो सकता है। उन्होंने कहा कि अंदेशा है कि इसी ने तीन लोगों को मारा है। हालांकि पुष्टि डब्लूआईआई देहरादून को भेजे जा रहे सैंपल की रिपोर्ट के बाद ही होगी। बाघ पकड़े जाने के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद