उपद्रवियों पर होगा सख्त एक्शन- बजट सत्र में कड़ा कानून ला सकती है धामी सरकार

खबर शेयर करें

देहरादून। धामी सरकार ने उप्रदवियों से निपटने का खाका तैयार कर लिया है। सरकार अब उपद्रवियों से सख्ती से निपटने की तैयारी में है। इसके लिए एक्शन प्लान तैयार कर लिया गया है। इसके तहत ‘उत्तराखंड लोक एवं निजी संपत्ति क्षति वसूली विधेयक’ लागू किया जा सकता है। इसे जल्द से जल्द लागू करने पर जोर दिया जा रहा है। माना जा रहा है कि इसी बजट सत्र में यह विधेयक मंजूर हो सकता है।

उत्तराखंड का विधानसभा बजट सत्र सोमवार 26 फरवरी से शुरू होने जा रहा है। साथ ही हाल ही में हल्द्वानी में दंगे ने सरकार की भी परेशानी बढ़ा रखी है। ऐसे में बजट सत्र के पहले दिन सोमवार को होने वाले प्रश्नकाल में सवालों का जवाब संसदीय कार्यमंत्री प्रेमचंद अग्रवाल देंगे। यह दिन मुख्यमंत्री के लिए नियत होने के कारणा सीएम पुष्कर सिंह धामी ने जवाब देने के लिए संसदीय कार्यमंत्री को अधिकृत किया है। ऐसे में उत्तराखंड में  ‘उत्तराखंड लोक एवं निजी संपत्ति क्षति वसूली विधेयक’  लागू करने की योजना को अमलीजामा पहनाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में कल इन इलाकों में बिजली आपूर्ति रहेगी बाधित

  उत्तराखंड सरकार विरोध-प्रदर्शन के नाम पर सरकारी एवं निजी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने वाले उपद्रवियों पर लगाम कसने जा रही है। इसके लिए बजट सत्र में सख्त कानून का विधेयक लाया जा रहा है। इसके लिए गृह विभाग ने ‘उत्तराखंड लोक एवं निजी संपत्ति क्षति वसूली विधेयक’ तैयार कर लिया है। यूपी सरकार 2020 में ऐसा विधेयक बना चुकी है। उत्तराखंड विधानसभा में भी अब यह विधेयक पेश होने जा रहा है। इसके तहत विरोध, प्रदर्शन, हड़ताल के दौरान होने वाले नुकसान की भरपाई उपद्रव में शामिल आरोपियों से की जाएगी। 

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद