सुसाइड करने जा रही थी युवती, एक कॉल से ऐसी बचाई जान

खबर शेयर करें

देहरादून। ऊधमसिंहनगर की एक युवती की जान अमेरिका से आई मेटा कंपनी की एक कॉल से बच गई। युवती इंस्टाग्राम पर सुसाइड प्वाइंट के बारे में पूछ रही थी। रात में डीएसपी अंकुश मिश्रा को फोन आया तो उन्होंने स्थानीय पुलिस को युवती के घर भेजा। वहां युवती की काउंसिलिंग कराई और उसे आत्महत्या करने से रोक लिया। डीएसपी साइबर अंकुश मिश्रा ने बताया कि रात करीब 11 बजे उन्हें अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित मेटा कंपनी के मुख्यालस से फोन आया था। बताया गया था कि उत्तराखंड के ऊधमसिंहनगर की एक युवती ने इंस्टाग्राम पर आत्महत्या के संबंध में कुछ बातें लिखी हैं। इस पोस्ट का लिंक भी दिया गया। हेड कांस्टेबल प्रमोद ने जांच शुरू की तो युवती का पता चल गया। एसपी क्राइम चंद्रशेखर आर गोड़के को इसकी सूचना दी गई। इसके बाद पुलिस युवती के पास पहुंची और उससे परेशानी का कारण पूछा। पता चला कि इस युवती की माता का देहांत कुछ साल पहले हो गया था। उसके पिता ने दूसरी शादी कर ली थी। कुछ समय पहले नगदपुरी निवासी एक युवक से उसका प्रेम प्रसंग चला। यह भी कुछ समय बाद टूट गया। युवती इसी बात से परेशान होकर आत्महत्या के बारे में सोच रही थी। स्थानीय पुलिस ने डेढ़ घंटे तक उसकी काउंसिलिंग की। युवती ने अपने परिजनों से इस बाबत माफी मांगी, जिसके बाद उसे उसके ताऊ के सुपुर्द कर दिया गया है। पिछले साल मेटा के नोडल अधिकारी अश्विन मधुसुदन की ओर से डीएसपी अंकुश मिश्रा को मेटा के लिए एसटीएफ का नोडल अफसर बनाया गया था। इसके बाद से प्रदेश में फेसबुक या इंस्टाग्राम पर आत्महत्या से संबंधित पोस्ट करता है तो इसकी जानकारी कंपनी अंकुश मिश्रा को देती है।

यह भी पढ़ें 👉  नीट व नेट पेपर लीक मामले में कांग्रेस ने फूंका मोदी सरकार का पुतला
लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद