बालिका को हवस का शिकार बनाकर किया था जान से मारने का प्रयास, आरोपी को पुलिस ने दबोचा

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। यहां 12 साल की बच्ची से दुष्कर्म करने के बाद उसे जान से मारने के प्रयास मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वह सात बच्चों का पिता है। आरोपी के जुर्म कबूलने पर पुलिस ने उसे न्यायालय में पेश किया है। 

बता दें कि 8 अगस्त को सूचना मिली कि राजपुरा में गौला नदी से सटे जंगली इलाके में एक बच्ची चोटिल है। इस पर पुलिस तुरंत घटना स्थल पर पहुंची। मामला पहली नजर में ही संदिग्ध लग रहा था, क्योंकि बच्ची के शरीर में चोट के कई निशान थे और उसका जबड़ा किसी पत्थर से बुरी तरह कुचला गया था। पुलिस बच्ची को तुरंत डॉ सुशीला तिवारी अस्पताल लेकर गई। जहां बच्ची अभी भी जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है। डरी-सहमी बच्ची ने पुलिस ने जांच के दौरान पुलिस को उस आदमी का हुलिया बताया जिसने इस घटना को अंजाम दिया था.

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेक फेल होने से क्रेन खाई में गिरी, पहाड़ी पर अटकी कार, इस तरह बची जिंदगियां

पुलिस ने इस मामले में एक सात बच्चों के पिता को गिरफ्तार किया है जिसकी खुद की भी 15 से 20 साल की बेटियां है। पूछताछ में आरोपी ने कबूला है कि 8 अगस्त को बच्ची गौला नदी की ओर जा रही थी। उसके हाथ में खाने का सामान था लेकिन वो रास्ता भटक गई। आरोपी ने उसके पिता का दोस्त होने का दावा करते हुए रास्ता दिखाने की बात की. वो उसे घनी झाड़ियों की ओर ले गया, जहां उसने बच्ची को दबोच लिया लेकिन बच्ची चिल्लाने लगी जिसके बाद आरोपी ने बच्ची के सिर पर पत्थर से वार कर दिए और कपड़े से गला घोंट दिया। बच्ची को मरा समझकर घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी वहां से फरार हो गया, लेकिन बच्ची को थोड़ी देर बाद होश आ गया। बच्ची दर्द में चिल्ला रही थी, जिसकी आवाज वहां बकरी चरा रहे लोगों के कानों में पड़ी। उन्होंने पास जाकर देखा जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने घटना के चार दिन बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद