जंगल में पत्ते काटने गए वन गुर्जर पर हाथी ने बोला हमला, मौत

खबर शेयर करें

खटीमा। किलपुरा रेंज के जंगल में हाथी के हमले में वन गुर्जर की मौत का मामला प्रकाश में आया है। वह चचेरे भाई के साथ जानवरों के लिए पत्ते काटने गया था। इधर घटना पर वन विभाग के अधिकारियों ने संदेह जताया है। वह पेड़ से गिरने से मौत होना मान रहे हैं।

जानकारी के अनुसार बिरिया मझोला गांव के पास रहने वाला वन गुर्जर मोहम्मद सुलेमान (50) पुत्र सद्दीक रविवार शाम को अपने चचरे भाई रऊफ के साथ किलपुरा रेंज के जंगल में जानवरों के लिए पत्ते काटने गया था। परिजनों ने बताया कि रऊफ पेड़ में चढ़कर पत्ते काट रहा था। सुलेमान जमीन पर पत्ते समेट रहा था। तभी सामने से आए हाथी ने उसे पटककर मार डाला। सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर मुआयना किया।

यह भी पढ़ें 👉  अतिक्रमण के खिलाफ चला अभियान, कई निर्माण ध्वस्त

वन क्षेत्राधिकारी ने बताया कि आसपास मुआयना करने पर न तो हाथी के पंजे के निशान मिले और न ही हाथी के हमले के निशान। वन क्षेत्राधिकारी ने कहा कि ऐसा मालूम पड़ रहा है कि सुलेमान की मौत पेड़ से गिरकर हुई है। आज सोमवार को मृतक का पोस्टमार्टम करवाया गया। परिजनों ने बताया कि पेड़ पर पत्ते रऊफ काट कर रहा था। ऐसे में सुलेमान के पेड़ के गिरकर मरने का सवाल भी पैदा नहीं होता। उन्होंने मुआवजे मांग की। बता दें कि गत 11 जनवरी को किलपुरा रेंज के जंगलों में बकरियों के लिए पत्ते काटने गए नौगवांनाथ निवासी मदनराम को भी हाथी ने मार डाला था।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद