साइबर क्राइम: अल्मोड़ा में एक मोबाइल सिम से ठग डाले 12 लाख…. आधार कार्ड का ऐसे किया उपयोग… रक्षा मंत्रालय से रिटायर व्यक्ति को बनाया निशाना, आप भी रहें सावधान….

खबर शेयर करें

Almora न्यूज: आपका मोबाइल सिम और आधार कार्ड से भी साइबर ठगी हो सकती है। उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले में ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां पर कुछ लोगों ने बेहद शातिराना अंदाज में आधार कार्ड और मोबाइल सिम का उपयोग कर रक्षा मंत्रालय से रिटायर कर्मचारी के खाते से 12 लाख की रकम निकाल दी। इस मामले में पुलिस पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पीड़ित ने पुलिस को ये बताया

Almora: 29 जनवरी को ग्राम च्याली, छानागोलू ने थाना द्वाराहाट में पीड़ित ने पुलिस को मामले की जानकारी दी। शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया बताया कि 10 जनवरी से 19 जनवरी के बीच में उसके खाते से करीब 13 लाख की रकम हड़प ली। मामले की जांच कोतवाल रानीखेत राजेश कुमार यादव ने की।

यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊं- पुलिस की तत्परता के चलते रूकी नाबालिग लड़की की शादी

शातिराना अंदाज में की ठगी
Almora: पुलिस के अनुसार घटना को उत्तर प्रदेश के संभल जिले से अंजाम दिया गया। यहां साइबर ठगों ने पीड़ित का कूटरचित आधार कार्ड व सिम के नम्बर को दिखाकर सिमेक्स के माध्यम से वोडाफोन रिटेल स्टोर से खरीदा गया। जिसके बाद यूनो एप्प एसबीआई डाउनलोड कर इस धोखाधड़ी को अंजाम दिया गया। आरोपियों ने पीड़ित के खाते से करीब 12 लाख निकाल कर अलग—अलग खातों में ट्रांसफर किए गए। जिसके आधार पर पुलिस टीम द्वारा द्वारा लोकेशन के आधार पर उक्त तीनों साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी एमबीपीजी में प्रवेश को लेकर ये है बड़ा अपडेट

पड़ताल में ये बात आई सामने

Almora: सीओ ऑपरेशन ओशिन जोशी ने बताया कि पीड़ित के अकाउंट में लिंक मोबाइल नंबर के जांच के दौरान पाया कि वोडाफोन रिटेलर विशेष कुमार शर्मा, निवासी मुरादाबाद ने पीड़ित के मोबाइल नंबर को बिना सत्यापन किए सिम बदलकर आरोपी (जिसकी गिरफ्तारी होनी है) को दे दी। वादी का मोबाइल नंबर का सिमेक्स ग्लोबल इण्टर प्राइजेज सम्भल, उत्तर प्रदेश से होना पाया गया। इसके बाद वोडाफोन कंपनी के कर्मचारी अमन कुमार पुत्र विजय कुमार, निवासी गाजियाबाद गौतमबुद्ध नगर ने पीड़ित के पहले मोबाइल नंबर की केवाईसी से मिलान न कर लापरवाही से सिमेक्स प्रक्रिया पास कर दी। वही, मामले का तीसरा आरोपी धीरज कुमार निवासी मुरादाबाद के खाते में 6 लाख 75 हजार रूपये ट्रांसफर होना पाया गया है। बताया कि आधार कार्ड दिखाने व सिम लेने वाले आरोपी की फिलहाल गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी व खाते से अन्य ट्रांजेक्शन को लेकर जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: गर्मी से मिलने वाली है राहत, ये है मौसम विभाग का अपडेट

इनको किया गिरफ्तार
धीरज कुमार (23)पुत्र विजय पाल सिंह निवासी अहरोला तेजवन थाना गजरौला जिला अमरोहा उत्तर प्रदेश

विशेष शर्मा(34) पुत्र नरेश शर्मा निवासी पंचशील कॉलोनी चंदोसी उत्तर प्रदेश

रोविन ठाकुर(20) पुत्र फोनी ठाकुर निवासी पच्चीसफुटा रोड़ गौतमबुद्ध नगर नोयडा सैक्टर 63 दिल्ली।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद