कुमाऊं….. फर्जी तरीके से सरकारी डॉक्टर बना, पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा, ये है मामला

खबर शेयर करें

श्रीनगर। पिथौरागढ़ जिला अस्पताल में ईएमओ के पद पर कार्यरत डॉक्टर पर फर्जी तरीके से एमबीबीएस करने का आरोप है। शिकायत पर
वीर चंद्रसिंह गढ़वाली राजकीय मेडिकल कॉलेज, श्रीनगर में फर्जी तरीके से एमबीबीएस में प्रवेश लेकर पढ़ाई करने के आरोप में सरकारी डॉक्टर के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। आरोप है की साल 2014-2015 में उसने पासआउट किया।

ऊधमसिंहनगर के नत्था सिंह वार्ड-दो, जसपुर निवासी मोहम्मद नसीम ने श्रीनगर मेडिकल कॉलेज को पत्र भेजकर शिकायत की थी की डॉ. अमन आलम पुत्र जाहिद आलम निवासी जसपुर ने वर्ष 2010 में फर्जी तरीके से एमबीबीएस में प्रवेश लिया था। प्रवेश पाने के लिए अपने स्थान पर किसी अन्य को बैठाकर उत्तराखंड प्री-मेडिकल टेस्ट (यूपीएमटी) उत्तीर्ण की। इस मामले में बीते अगस्त माह में मेडिकल कॉलेज प्रशासन की ओर से शिकायती पत्र, कोतवाली श्रीनगर को भेजकर जांच का अनुरोध किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  अनियंत्रित वाहन ने बाइक सवारों को रौंदा, एक की मौत, दूसरा घायल

कोतवाली निरीक्षक विनोद गुसाईं ने बताया कि मामले की जांच चौकी प्रभारी श्रीकोट एसआई लक्ष्मण सिंह कुंवर ने की, जिसमें शिकायत सही पाई गई। पढ़ाई के बाद वर्ष 2015 से आरोपी अमन बतौर सरकारी डॉक्टर पिथौरागढ़ जिले में सेवा देने लगा। जांच अधिकारी ने आरोपी के विरुद्ध धोखाधड़ी व छल का मुकदमा दर्ज कराया है। जिला अस्पताल के पीएमएस डॉ.जेएस नबियाल के अनुसार डॉ. अमन जिला अस्पताल में ईएमओ के रूप में तैनात हैं उन पर उच्च स्तर से जांच चल रही है। आगे जो भी फैसला आएगा, उसके अनुसार निर्णय लिया जाएगा।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद