पतंजलि में गुरूकुलम और आचार्यकुलम का शिलान्यास, छात्रों को मिलेगी यह सुविधा

खबर शेयर करें

हरिद्वार। महर्षि दयानंद सरस्वती की 200वीं जयंती एवं पतंजलि योग पीठ के 29वें स्थापना दिवस पर पतंजलि गुरूकुलम और आचार्यकुलम का शिलान्यास किया।

समारोह में भाग लेने के लिए केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को धर्मनगरी हरिद्वार पहुंचे। शिलान्यास कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के अलावा मध्य प्रदेश के सीएम डा. मोहन यादव समेत कई केंद्रीय मंत्री हरिद्वार पहुंचे हैं। इससे पूर्व जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचने पर केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और एमपी के सीएम डा. मोहन यादव का सीएम पुष्कर सिंह धामी ने पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया। स्वामी दयानंद सरस्वती की 200वीं जयंती, पतंजलि योग पीठ का 29वां स्थापना दिवस और गुरुकुल के संस्थापक स्वामी दर्शनानंद की जयंती अवसर पर यह कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद: अल्मोड़ा के शिक्षक और सिदार्थ पार्लर की संचालिका के पति का निधन

118 साल पहले स्वामी दर्शनानंद द्वारा तीन बीघे जमीन, तीन ब्रह्मचारी और तीन चवन्नियों के साथ शुरू किए गए गुरुकुल का नाम स्वामी दर्शनानंद गुरुकुल महाविद्यालय ज्वालापुर होगा। 10 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले पतंजलि गुरुकुलम के नए सात मंजिला परिसर में करीब 1500 छात्रों के लिए आवासीय सुविधाएं भी होंगी। कार्यक्रम में एमिटी के अध्यक्ष अशोक चौहान शिलान्यास समारोह में शामिल हुए। योग बाबा रामदेव ने कहा कि पतंजलि का यह गुरूकुल विश्व का सबसे बड़ा गुरूकुल होगा। पतंजलि योग पीठ ने 5 वर्षों में पांच हजार करोड़ के निवेश से भारतीय शिक्षा में बड़ी क्रांति का संकल्प लिया है। यह पतंजलि योग पीठ की तीसरी सबसे बड़ी क्रांति होगी।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद