कॉलेज में बेचने के लिए कार से जा रहे थे चरस, दो छात्र समेत तीन गिरफ्तार

खबर शेयर करें

हरिद्वार। दून के कॉलेज में चरस बेचने के लिए जा रहे तीन चरस तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इन तस्करों में दो छात्र और एक मर्चेंट नेवी में चयनित हो चुका युवक शामिल है। पुलिस को देखकर तीनों ने कार भगाने का प्रयास भी किया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना श्यामपुर में गठित अलग-अलग चैकिंग टीमों द्वारा विभिन्न स्थानो पर चैकिग की जा रही थी। चौकी चण्डीघाट पर चैकिंग के दौरान नजीबाबाद की तरफ से हरिद्वार की ओर आ रही एक सफेद रंग की आई 20 कार अचानक चिल्ला की तरफ भागने लगी। पुलिस टीम ने तत्परता दिखाते हुए चौकी से थोड़ी ही दूरी पर चीला रोड पर स्लाईडिंग बैरियर गाडी के आगे लगा दिए जिस कारण कार चालक को मजबूरन कार रोकनी पड़ी। संदेह के आधार पर कार की तलाशी लेने पर उक्त कार में चालक सहित 3 लोग सवार मिले।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद: अल्मोड़ा के शिक्षक और सिदार्थ पार्लर की संचालिका के पति का निधन

जिनके कब्जे से एक किलो चरस बरामद हुई। पूछताछ पर पता चला कि तीनों तस्कर इस चरस को हल्द्वानी से खरीदकर लाए थे और ग्राफिक एरा कालेज देहरादून के स्टूडेस को बेचने जा रहे थे। बरामद चरस के आधार पर तीनों आरोपियों के खिलाफ थाना श्यामपुर पर एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया। गिरफ्त में आए आरोपी अर्जुन मनारिया पुत्र पुष्पेन्द्र कुमान निवासी छोटा भारूवाला देहरादून का मर्चेंट नेवी में सलेक्शन हुआ है, केवल कॉल लेटर आना बाकी था। जबकि अन्य दो आरोपियो में तरुण बिष्ट पुत्र मदन बिष्ट निवासी शक्ति फार्म सितारगंज उधमसिंहनगर व अक्षत रावत पुत्र गोपाल रावत निवासी दुर्गा बिहार विकासनगर देहरादून ग्राफिक एरा कॉलेज में बीबीए और बीसीए के सेकेंड ईयर के छात्र हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद