बेलड़ा में कैसे हुई अनुसूचित जाति के युवक की मौत और क्यों हुआ बवाल? अब सीबीसीआईडी सामने लाएगी सच

खबर शेयर करें

देहरादून। हरिद्वार के रुड़की के बेलड़ा गांव में 11 जून को एक अनुसूचित जाति के युवक की मौत और इसके बाद हुए बवाल पर सरकार सख्त हो गई है। इस मामले में सरकार ने सीबीसीआईडी जांच कराने का निर्णय लिया है। इसके आदेश मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दे दिए हैं। अब इस मामले की जांच सीबीसीआईडी करेगी और युवक की मौत के राज से पर्दा उठाएगी। मुख्यमंत्री के आदेश के बाद अब सीबीसीआईडी जल्द इसकी जांच शुरू कर देगी।

हरिद्वार जिले की रुड़की सिविल लाइंस कोतवाली क्षेत्र स्थित बेलड़ा गांव निवासी पंकज का शव 11 जून की रात को गांव के पास सड़क पर संदिग्ध हालत में मिला था। इस मामले में ग्रामीणों ने हत्या की आशंका जताते हुए कोतवाली का घेराव किया था तथा एक नामजद के खिलाफ तहरीर दी थी। पुलिस ने इसे हादसा माना। इस पर ग्रामीणों ने पुलिस पर मामले को दबाने का आरोप लगाते हुए कोतवाली का घेराव किया था। इसके बाद शव लेकर कोतवाली आ रहे ग्रामीणों से पुलिस की जमकर नोकझोंक और हाथापाई हुई थी। गांव पहुंची पुलिस और ग्रामीणों के बीच भी विवाद हुआ था।

यह भी पढ़ें 👉  तहसील के खाते से उड़ाई हजारों की रकम, ईनामी कुख्यात गिरफ्तार 

इसमें दो इंस्पेक्टर भी घायल हुए। पुलिस ने इस प्रकरण में कई ग्रामीणों पर मुकदमा भी दर्ज किया। यह मामला धीरे-धीरे तूल पकडने लगा और इसने राजनीतिक रंग ले लिया। इस मामले को लेकर विपक्ष ने सरकार पर कई आरोप भी लगाए और कार्रवाई न करने की बात कही थी। इस मामले में मृतक के परिजन सरकार से लगातार उच्चस्तरीय जांच की मांग भी कर रहे थे। उन्होंने मुख्यमंत्री से भी भेंट की थी। उनका कहना था कि मामले की जांच स्थानीय पुलिस से न कराकर इसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जाए और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। मुख्यमंत्री ने उन्हें आश्वासन भी दिया था। अब मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस प्रकरण की जांच सीबीसीआईडी को देने के आदेश जारी कर दिए हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद