लापरवाही…..खतरे में नौनिहालों की जान, प्रशासन बेपरवाह, जानें क्या है मामला

खबर शेयर करें

लालकुआं। निजी स्कूलों के वाहनों के दुर्घटनाग्रस्त होने के मामले लगातार प्रकाश में आ रहे हैं। इससे पुलिस-प्रशासन और संभागीय परिवहन विभाग की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े हो रहे हैं। निजी स्कूल नौनिहालों की जान खतरे में डाल रहे हैं। लेकिन प्रशासन बेपरवाह बना हुआ है। ऐसा ही एक और वाकया बुधवार को लालकुआं में देखने को मिला। जहां स्कूली बच्चों से भरी बस अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे पलट गई। बच्चों को शीशे तोड़कर बाहर निकाला गया।

जानकारी के अनुसार बुधवार सुबह सात बजे दिल्ली पब्लिक स्कूल की बस लालकुआं से बच्चों को लेकर हल्द्वानी जा रही थी। जैसे ही बस डिपो संख्या चार के सामने पहुंची, तभी अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे उतरकर पलट गई। इस दौरान बस में चार बच्चे, स्कूल स्टाफ, आया और ड्राइवर थे। गनीमत रही थी बस मेें सवार किसी को भी गंभीर चोटें नहीं आई। बच्चों एवं अन्य को हल्की-फुल्की खरोचें आई हैं।

यह भी पढ़ें 👉  प्यार में पागल किशोरी ने ‌प्रेमी से कराया पिता और किशोरी का मर्डर, गिरफ्तार

घटना की जानकारी मिलते ही भाजपा मंडल अध्यक्ष धन सिंह बिष्ट समेत पुलिस मौके पर पहुंची। उन्होंने बस में सावर बच्चों समेत स्टॉफ को शीशे तोड़कर बस से बाहर निकाला। जिसके बाद बच्चों को घर ले जाया गया। यहां गौरतलब है कि दो दिन पहले ही हल्द्वानी में भी स्कूली बस डिवाईडर में चढ़ गई थी। इससे पूर्व में भी स्कूली वाहनों के दुर्घटनाग्रस्त होने के मामले लगातार प्रकाश में आते रहे हैं। निजी स्कूल की लापरवाही से नौनिहालों की जिंदगी खतरे में पड़ रही है। बावजूद इसके पुलिस-प्रशासन आंखें मूंदे बैठा हुआ है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद