अल्मोड़ा में मृग विहार में रामू की हो गई मौत

खबर शेयर करें

अल्मोड़ा। अल्मोड़ा के मृग विहार में यदि आप गए हैं तो वहां पर जिस रामू को आपने देखा। वह अब इस दुनिया में नहीं रहा। आकर्षण का केंद्र रामू के नाम से प्रसिद्ध संरक्षित प्रजाति का हिमालयी काला भालू की मौत हो गई। वह लंबे समय से बीमारी से जूझ रहा था। अफसरों ने बताया मृग विहार में 1998 में रामू नाम का भालू लाया गया था। करीब 24 वर्षीय भालू बीते तीन मई से अस्वस्थ था। उसके पैर और हाथों में मवाद और कीड़े तक पड़ गए थे। भालू के बीमार पड़ने पर पूर्व में पशु चिकित्साधिकारी डा. कमल दुर्गापाल और डा. योगेश शर्मा को बुलवाया गया।

वन क्षेत्राधिकारी मृग विहार अल्मोड़ा देवेंद्र खोलिया ने बताया कि भालू वैज्ञानिक नाम (सेलेनार्कटास थिबेतानस लैनिगर) तीन मई से बीमार चल रहा था। उसके उपचार के लिए रानीबाग से भी डाक्टर बुलवाए गए, लेकिन बीते रविवार की रात में उसने दम तोड़ दिया।

यह भी पढ़ें 👉  मौसम अलर्ट- पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से हो सकती है बारिश और बर्फबारी

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद