इस इलाके में भूस्खलन प्रभावित ग्रामीणों को एसडीआरएफ ने किया कैंप, कमांडेंट ने लिया राहत-बचाव कार्यों का जायजा

खबर शेयर करें

देहरादून। लांगा रोड विकासनगर में भूस्खलन की जद में आए जाखण गांव में चल रहे एसडीआरएफ के राहत एवं बचाव अभियान का कमांडेंट एसडीआरएफ मणिकांत मिश्रा ने मौके पर पहुंचकर जायजा लिया। उन्होंने सम्पूर्ण गांव का स्थलीय निरीक्षण कर एसडीआरएफ टीमों को शीघ्रता से राहत एवं बचाव कार्यों को करने हेतु महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए।

बुधवार की दोपहर हुए भूस्खलन में जाखण गाँव के 9 मकान तथा 7 गौशालायें पूर्ण रूप से जमींदोज हो गयी थी। जिसमें कुल 16 परिवारो के 50 लोग रहते थे। घटना में किसी भी प्रकार की कोई जनहानि या पशु हानि नहीं हुई है। एसडीआरएफ द्वारा ध्वस्त मकान में फंसे पशुओं को सुरक्षित निकालकर ग्रामवासियों के सुपुर्द कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊं: सड़क हादसे में बीजेपी नेता की मौत, अल्मोड़ा के रहने वाले थे सचिन, जीआईसी में

वहीं सुरक्षा की दृष्टिगत सभी प्रभावित लोगों को उनके आवश्यक सामान के साथ पछता गांव के स्कूल में बनाये राहत कैम्प में सुरक्षित तौर पर पहुंचाया दिया गया था। सेनानायक एसडीआरएफ द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि एसडीआरएफ की टीमें कल से ही जाखन गांव में राहत एवं बचाव कार्यों को समर्पित होकर कर रही है। प्रभावित लोगों की हर तरीके से सहायता की जा रही है। एसडीआरएफ टीमें प्रभावित क्षेत्र में कड़ी नजर बनाये हुए है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद