एक्शन में उक्रांद नेतृत्व, अराजकता फैलाने वालों पर की गई यह सख्त कार्रवाई

खबर शेयर करें

देहरादून। जिन लोगों ने उक्रांद कार्यालय में तोड़फोड़ करते हुये अराजकता फैलाई थी, उन पर कार्यवाही हो गई है। उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष काशी सिंह ऐरी ने अनुशासनहीनता और अराजकता फैलाने वालों को दल से छः साल के लिए निष्कासित कर दिया है।

कचहरी रोड स्थित पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष काशी सिंह ऐरी ने कहा कि उत्तराखंड क्रांति दल एक है। कुछ बाहरी तत्वों के इशारे पर दल के कुछ लोगों ने अनुशासनहीनता और अराजकता फैलाई, उन सभी पर कार्यवाही करते हुए दल से छः साल के लिए निष्कासित किया गया है। निष्कासित लोगों द्वारा दल के नाम प्रयोग करना और किसी भी प्रकार बैठक, सम्मलेन करना अवैध हैं। जो निष्काषित व्यक्ति इसमें संलिप्त पाया गया उन पर अपराधिक मामला दर्ज किया जायेगा। उन्होंने कहा कि कार्यालय पर कब्जा करने वाले निष्कासित लोग व कोटद्वार में सम्मलेन करने वाले निष्काषित लोगों का कोई वजूद नहीं है। यह लोग बाहरी लोगों के इशारे पर उक्रांद को कमजोर करने की चेष्टा कर रहे हैं, इनके मंसूबे कभी कामयाब नहीं होंगे।

यह भी पढ़ें 👉  करार......अल्मोड़ा में 1500 मेगावाट् के 2 पम्प स्टोरेज का विकास करेगी जे एस डब्लयू नियो एनर्जी

कहा कि दल का संगठन, उनकी सभी इकाईया मेरे नेतृत्व में संगठित हैं। दल किसी भी प्रकार की अराजकता और अनुशासनहीनता को कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। साथ ही कोई भी सदस्य निष्काषित व्यक्तियों के साथ रहेगा। अविलम्ब उनपर भी कार्यवाही की जायेगी। वार्ता में दल के संरक्षक दिवाकर भट्ट, त्रिवेंद्र सिंह पंवार, सुरेन्द्र कुकरेती, महेन्द्र सिंह रावत, ललित बिष्ट, सुनील ध्यानी, पंकज व्यास, बहादुर रावत, देवेश्वर भट्ट, विजय बौडाई, मोहन असवाल, अशोक नेगी, राजेंद्र बिष्ट, राजेंद्र प्रधान, बिजेंद्र रावत उपस्थित रहे। इस अवसर पर हरीश सनवाल ने शौर्य दिवस पर पार्टी क़ी सदस्यता ली। उनकाउत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष काशी सिंह ऐरी, दल के संरक्षक दिवाकर भट्ट, त्रिवेंद्र सिंह पंवार ने माला पहना कर स्वागत किया।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद