Subscribe our YouTube Channel

कुमाऊं: पबजी गेम के लिए मोबाइल न देने पर 13 साल के बच्चे ने कर ली आत्महत्या…… परिवार में मचा कोहराम

खबर शेयर करें

ये घटना उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले की है। यहां 13 साल के बच्चे ने पबजी गेम के लिए मोबाइल न दिए जाने पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। कक्षा सात में पढ़ने वाले छोटे बच्चे द्वारा उठाए गए इस भयावह कदम से हर कोई हैरान है। घटना तहसील बंगापानी के अंतर्गत आने वाले दाखिम गांव में पब्जी खेलने के लिए मोबाइल फोन नहीं देने से नाराज 13 साल के बालक ने गले में रस्सी का फंदा डाल कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। सेरमाली क्षेत्र के दाखिम गांव निवासी अंकित कुमार पुत्र दिनेश कुमार मोबाइल फोन पर पब्जी खेलता था। पब्जी खेलने के लिए अपने माता, पिता से मोबाइल फोन मांगता रहता था। माता, पिता द्वारा पब्जी नहीं खेलने के लिए उसे मना किया जाता था। मना करने पर वह नाराज हो जाता था।

सोमवार को भी उसने पब्जी खेलने के लिए अपने माता, पिता से मोबाइल फोन मांगा। उसे पब्जी खेलने के लिए फोन नहीं दिया गया। जिसे लेकर वह नाराज हो गया। कक्षा सात में पढऩे वाले बच्चे के नाराज होने को माता, पिता सामान्य मानते रहे।

यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊं कमीश्नर के भाई की कार समेत कई गाड़ियों से चोरी

दूसरी तरफ अंकित कुमार पब्जी खेलने को मोबाइल फोन नहीं दिए जाने से इस कदर नाराज हो गया कि उसने फांसी लगाने का निर्णय ले लिया। सोमवार सायं उसका शव घर से कुछ दूर एक पेड़ की टहनी पर रस्सी के सहारे लटका मिला।

यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊं कमीश्नर के भाई की कार समेत कई गाड़ियों से चोरी

मोबाइल फोन नहीं दिए जाने से नाराज 13 साल के बच्चे के फांसी में लटकने से लेकर पूरे गांव में हड़कंप मच गया। ग्रामीणों ने इसकी सूचना नाचनी पुलिस थाने को दी।

यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊं कमीश्नर के भाई की कार समेत कई गाड़ियों से चोरी

सोमवार को पुलिस गांव पहुंची और मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टन के लिए जिला मुख्यालय पिथौरागढ़ भेज दिया है। दाखिम गांव अति दूरस्थ गांव है। यहां पर मोबाइल फोन में कभी कभार ही सिग्नल आते हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments