अल्मोड़ा… गायत्री मंदिर के आसपास टुल्लू पम्प लगने से नहीं आ रहा पानी, बताई ये वजह, अफसरों को दिया ये सुझाव……

खबर शेयर करें

अल्मोड़ा न्यूज। नगर के लिंक रोड़ गायत्री मंदिर और आसपास के क्षेत्र में लंबे समय से पानी की किल्लत बनी हुई है। इस वजह से क्षेत्र के लोग बेहद परेशान हैं। आज गायत्री परिवार से जुड़े लोगों ने ईई जल संस्थान को एक पत्र सौंपा। इसमें लोगों ने अफसरों को बताया कि उनके क्षेत्र में पानी क्यों नहीं आ रहा। इसकी वजह भी बताई। साथ ही सुझाव भी अफसरों को दिया। डीएम को भी पत्र दिया।

पत्र में क्षेत्र के लोगों ने कहा कि लिंक रोड़ गायत्री मंदिर और आसपास के क्षेत्र में लंबे समय से पानी की किल्लत बनी हुई है। लोग इस वजह से काफी परेसान रहते हैं। कई बार शिकायत के बाद भी उनकी परेशानी दूर नहीं हो पाई। लेकिन बीते 5 सितंबर को क्षेत्र में बिजली आपूर्ति बाधित थी। उस दिन उनके क्षेत्र में पर्याप्त पानी आया। ऐसे में लोगों ने अंदेशा जताया की अधिकांश जगह टुल्लू पम्प का प्रयोग किया जा रहा है। इस वजह से उनके क्षेत्र में पानी नहीं आ रहा है। कहा कि जिस दिन बिजली नहीं थी उस दिन अन्य दिनों में जो पानी उनको तीन दिन में मिलता था, वह एक दिन में ही मिल गया। अफसरों को बताया कि मोहल्लों में मोटर लगाना ही जल संकट का प्रमुख कारण है।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर…. इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

लोगों ने अफसरों से कहा कि यह समस्या का समाधान ऐसे किया जा सकता है कि जिस वक्त जिस मोहल्ले का पानी खोला जाय, उस वक़्त उस क्षेत्र की बिजली बंद करवा दी जाय। इसे एक माह के लिए ट्रायल के तौर पर किया जा सकता है। लोगों ने थपलिया और गायत्री मंदिर के आसपास जांच कर मोटर हटाने की मांग की।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: यहां मिली 14 साल के मोहित की लाश

पत्र में आनंदी मेहता, सुशीला तिवारी, गोविंद भैसोड़ा, सरोज मेलकानी, विभा जोशी, निर्मला अधिकारी, उर्मिला तिवारी, इंद्रा गनघरिया, मंजू, भावना मनकोटी, मंजू जोशी, तपोधन पांडेय, दीप चंद्र जोशी, मोहन चंद्र पाण्डे, बलवंत कुमार, राम सिंह बिष्ट, भीम सिंह अधिकारी आदि के हस्ताक्षर हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद