इंडिया को लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का बड़ा बयान, कहा-गठबंधन का उद्देश्य सनातन को समाप्त करना

खबर शेयर करें

देहरादून। भाजपा ने सनातन धर्म को लेकर कांग्रेस नेता उदयनिधि स्टालिन और प्रियांक खड़गे के बयान की कड़ी आलोचना करते हुए प्रदेश कांग्रेस नेताओं की चुप्पी को दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण बताया।

प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने पार्टी मुख्यालय में मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में इस पूरे विवाद पर प्रदेश कांग्रेस नेताओं की चुप्पी पर निशाना साधते हुए कहा कि तमिलनाडु के मंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बेटे ने सनातन धर्म का अपमान कर स्पष्ट कर दिया है कि मुंबई में इंडिया की बैठक में नेता तो तय नहीं हुआ, लेकिन  हिंदू धर्म के प्रति नफरत की नीति अवश्य तय हो गई। भट्ट ने कहा कि देवभूमि की पहचान दुनिया भर में सनातन धर्म के ध्वजवाहक की है, लेकिन अफसोस है कि कोई कांग्रेस नेता विरोध करने की हिम्मत नही जुटा पा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  निकाय चुनाव- बढ़ सकता है प्रशासकों का कार्यकाल, हो रहा ये काम

यही कांग्रेसी सुविधावादी हिंदू बनकर मंदिर मंदिर घूमने का ढोंग करते है और जब असल प्रतिवाद करने का समय होता है तो वह चुप्पी साध लेते हैं। श्री भट्ट ने कहा कि उत्तराखंडियो पर  थूकने वाले कथित बयानों से अपमानित करने के बाद अब एक बार फिर सनातन का अपमान किया जा रहा है और कांग्रेस चुप है। जबकि इस सच्चाई से वे भी अच्छी तरह से वाकिफ है कि उनके गठबंधन की नीति ही सनातन धर्म को समाप्त करना है और प्रदेश के नेता आलाकमान की हां में हां मिला रहे है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की चुप्पी अथवा बोलने का कोई फर्क नही पड़ता, क्योंकि सनातन धर्म अनादि काल से शास्वत है और शास्वत रहेगा। 

यह भी पढ़ें 👉  गंगोत्री धाम में नई व्यवस्था से आक्रोशित व्यापारियों का हंगामा, दुकानें बंद

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद