गर्भवती को अस्पताल ले जाने में ‌बारिश बनी बाधक, फिर एलआईयू यूनिट बनी देवदूत

खबर शेयर करें

पिथौरागढ़। यूँ ही नही कहते उत्तराखण्ड पुलिस को मित्र पुलिस, लोगों के विश्वास पर खरे उतरे एलआईयू कर्मी व थाना मुनस्यारी पुलिस। आपात काल स्थिति में प्रसव पीड़िता की मदद हेतु देवदूत बनकर सामने आई एल.आई.यू. यूनिट मुनस्यारी व थाना मुनस्यारी पुलिस।

ग्राम बूंगा निवासी पुष्पा देवी पत्नी कुन्दन सिंह उम्र लगभग 32 वर्ष की प्रसव पीड़ा के कारण परिजनो व ग्राम प्रधान सांईपोलों द्वारा प्रसूती को सामुदायिक स्वास्थ केंद्र मुनस्यारी ले जाया जा रहा था। लगातार बारिश होने के कारण उक्त महिला को हॉस्पीटल तक ले जाने में काफी कठिनाई तथा विलंब हो रहा था। जिस कारण उक्त महिला की जान को भी खतरा बना हुआ था। एलआईयू कार्यालय मुनस्यारी के समीप पहुचने के दौरान महिला को अत्यधिक प्रसव पीड़ा होने लगी।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर…. इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

लगातार भारी बारिस हो रही थी, एलआईयू के उप निरीक्षक कबूल चन्द व हेड कांस्टेबल किशन लोहिया तथा प्रभारी निरीक्षक थाना मुनस्यारी अशोक कुमार द्वारा त्वरित एलआईयू कार्यालय के कमरे में उक्त महिला व इसके परिजनों को बैठाया गया तथा 108 को फोन किया गया। इसी दौरान उक्त महिला द्वारा एलआईयू कार्यालय में ही एक बच्ची को जन्म दिया गया। एलआईयू कर्मियों द्वारा त्वरित 108 की मदद से जच्चा-बच्चा को स्वास्थ केन्द्र पहुँचाया। महिला व उसका नवजात बच्चा स्वस्थ हैं। परिजनों व ग्राम प्रधान सहित आन्य ग्रामीणों ने मुनस्यारी पुलिस व एलआईयू कर्मियों की भूरी-भूरी प्रशंसा करते हुए आभार व्यक्त किया।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद