अल्मोड़ा डीएम पहुंचे सल्ट और भिकियासैंण, अफसरों को दिए ये निर्देश

खबर शेयर करें

अल्मोड़ा। जिलाधिकारी विनीत तोमर ने आज विकासखंड सल्ट तथा भिकियासैंण के विभिन्न क्षेत्रों का निरीक्षण/भ्रमण किया तथा लोगों की समस्याएं सुनी। जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम मानिला मंदिर में ग्राम चौपाल लगाकर लोगों की समस्याओं को सुना। यहां जिलाधिकारी के सम्मुख जनप्रतिनिधियों एवं लोगों ने अपनी अपनी समस्याओं को रखा।

जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि जितनी भी समस्याएं लोगों द्वारा इस ग्राम चौपाल में उठाई गई हैं, उनका निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर किया जाए। यहां पर ग्राम प्रधान सीमा रिसना देवदत्त शर्मा ने हनेडी बसेड़ी मोटर मार्ग, आवारा पशुओं से निजात समेत अनेक समस्याएं जिलाधिकारी के सम्मुख रखी जिसपर जिलाधिकारी ने जल्द ही आवश्यक कार्यवाही का आश्वासन दिया। इस जनचौपाल में विधायक सल्ट महेश जीना भी उपस्थित रहे। इसके बाद जिलाधिकारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मानिला का निरीक्षण किया तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी जरूरी दवाओं का न्यूनतम एक माह का स्टॉक बना रहे। यहां पर जनप्रतिनिधियों ने मांग की कि  एक अतिरिक्त एंबुलेंस की तैनाती यहां रहे।

यह भी पढ़ें 👉  मौसम अलर्ट- हीटवेब के बीच बारिश को लेकर आई ये अपडेट, अलर्ट जारी

जिस पर उन्होंने सीएमओ को निर्देश दिए कि पूरे जनपद में सभी एंबुलेंस का आंकलन किया जाए तथा यह देखा जाए कि किस स्थान पर एंबुलेंस की वास्तविक जरूरत है। तथा इसी के अनुसार आवश्यकतापूर्ण स्थानों पर एंबुलेंस की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। इस दौरान उन्होंने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मनीला के निर्माणाधीन भवनों को जल्द पूर्ण करने के निर्देश संबंधित कार्यदाई संस्था के अधिकारियों को दिए। इसके बाद जिलाधिकारी ने विकासखंड मुख्यालय सल्ट का निरीक्षण किया तथा यहां लोगों की समस्याओं को भी सुना। जिलाधिकारी ने लोगों की समस्याओं के निदान करने के निर्देश उपस्थित संबंधित अधिकारियों को दिए। इस दौरान जिलाधिकारी ने जनपद में चल रही विभिन्न योजनाओं की प्रगति की भी समीक्षा की तथा खंड विकास अधिकारी को इस संबंध में कार्यों में गति लाने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  फर्जी प्रमाण पत्र से पाई शिक्षक की नौकरी, अब हुई जेल

इसके बाद जिलाधिकारी ने तहसील मुख्यालय सल्ट का भी निरीक्षण किया। उन्होंने सभी पटलों का निरीक्षण करने के साथ ही सभी व्यवस्थाओं को चाक-चौबंद रखने के निर्देश दिए। तत्पश्चात जिलाधिकारी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र देवायल का निरीक्षण किया। यहां पर उन्होंने रेफरल केस रजिस्टर, उपस्थिति पंजिका समेत अन्य दस्तावेजों को जांचा तथा प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए की लोगों को उपलब्ध संसाधनों में बेहतर चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाए साथ ही प्रभारी चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए की इमरजेंसी हेतु हमेशा चिकित्सक की तैनाती बनी रहे। इसके पश्चात जिलाधिकारी ने बादंगगढ़ – भौनडांडा पेयजल पंपिंग योजना (जेजेएम) का निरीक्षण किया तथा टाइम बॉन्ड के अनुसार कार्यों को पूर्ण करने के निर्देश दिए। इस दौरान उपजिलाधिकारी गौरव पांडे, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ आरसी पंत, ईई पीडब्ल्यूडी ओंकार पांडे, तहसीलदार निशा रानी समेत अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद