बदल रहा मौसम का मिजाज, पूर्वानुमान में यह जताई गई आशंका

खबर शेयर करें

देहरादून। उत्तराखंड में मौसम का मिजाज बदला हुआ है। पर्वतीय क्षेत्रों में कहीं बारिश तो कहीं बर्फवारी हुई है। वहीं मैदानी क्षेत्रों में भी कहीं-कहीं रूक-रूक कर वर्षा का क्रम जारी है। इस बीच मौसम विभाग ने 6 फरवरी तक प्रदेश में बारिश और बर्फबारी का पूर्वानुमान जताया है।

मौसम निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह ने बताया कि पांच फरवरी को बारिश के साथ बर्फबारी होने की संभावना है। 2200 मीटर से ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हो सकती है। साथ ही उत्तरकाशी, चमोली और रुद्रप्रयाग जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। मैदानी इलाकों में बारिश की संभावना है। छह फरवरी को 3000 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले कुछ इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी हो सकती है, उसके बाद एक सप्ताह तक मौसम के साफ रहने के आसार हैं।

यह भी पढ़ें 👉  गंगोत्री धाम में नई व्यवस्था से आक्रोशित व्यापारियों का हंगामा, दुकानें बंद

बर्फबारी और बारिश के बाद बढ़ी ठिठुरन केदारनाथ मंदिर, बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री सहित हिमालय के ऊंचे स्थानों पर शनिवार को भी बर्फबारी हुई। फरवरी माह के प्रथम सप्ताह में यह दूसरी अच्छी बर्फबारी है। बारिश और बर्फबारी के चलते मौसम काफी ठंडा हो गया है। उधर, उत्तरकाशी जिले में बर्फबारी के कारण बंद गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे यातायात के लिए खोल दिए गए हैं। हालांकि मार्गों पर बर्फबारी के कारण फिसलन बनी है, जिस कारण आवागमन जोखिमभरा बना है। मोरी के नैटवाड़ क्षेत्र के पांच गांवों में बिजली बाधित है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद