Subscribe our YouTube Channel

एसएसजे परिसर का पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष गिरफ्तार….. ये मामला…… पहले भी रहा है चर्चाओं में……

खबर शेयर करें

कुमाऊं मंडल के रुद्रपुर में एक विवाद में एसएसजे विवि का पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष को गिरफ्तार किया गया है। मामले में भाजयुमो का पूर्व प्रदेश मंत्री समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा पुलिस ने दर्ज किया है। बताया जाता है कि पकड़ा गया छात्र संघ अध्यक्ष पहले भी काफी चर्चाओं में रहा है।

पुलिस ने बताया कि बुधवार शाम 5 बजे रुद्रपुर पुलिस लाइन के अटरिया रोड की तरफ के गेट के अंदर राजनीतिक पार्टी का झंडा लगा एक बोलेरो वाहन प्रवेश कर रहा था। बताया जाता है कि इस दौरान वहां डयूटी पर तैनात सिपाही लक्ष्मण सिंह राणा ने वाहन को रोकने का प्रयास किया। इस बात को लेकर गाड़ी में सवार लोगों और सिपाही में विवाद हो गया। इसके बाद मामला मारपीट में पहुँच गया। इस बात से आहत सिपाही ने खुद को लगा दी आग
प्रारंभिक जांच के अनुसार, इससे आहत होकर सिपाही लक्ष्मण सिंह ने पास में ही संतरी पोस्ट में रखी केरोसिन की बोतल उठा ली और खुद के हाथ और पैरों में कैरोसिन उड़ेलकर आग लगा ली। सिपाही को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। वहीं मामले में मारपीट के आरोपियों के खिलाफ थाना पंतनगर में मुकदमा दर्ज कराया गया है। मामले में सिपाही दीपक बोरा की तहरीर पर पंतनगर थाने में पुलिस ने मारपीट के चार आरोपितों दीपक उप्रेती पुत्र कैलाश चंद्र निवासी ग्राम नैनोली पिथौरागढ़, दर्पण कुमार पुत्र दुर्गाराम निवासी कुंजनपुर गंगोलीहाट, विनोद कुमार पुत्र बहादुर राम निवासी कुंजनपुर गंगोलीहाट व अजय उप्रेती पुत्र ललित मोहन निवासी धुरा अल्मोड़ा के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पुलिस के अनुसार दीपक उप्रेती सोबन सिंह जीना परिसर अल्मोड़ा का पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष बताया जा रहा है। जबकि दर्पण कुमार भाजयुमो का पूर्व प्रदेश मंत्री रह चुका है। एसएसपी उधमसिंह नगर डॉ. मंजूनाथ टीसी ने बताया कि पुलिस लाइन में बाहरी व्यक्तियों का प्रवेश प्रतिबंधित है।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा…पत्रकार, अधिवक्ता दिनेश पांडे का निधन
लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments