Subscribe our YouTube Channel

अंकिता हत्याकांड…… सरकार आरोपियों को बचाना चाहती है… आखिर जिस कमरे में अंकिता रहती थी उसको क्यों तोड़ा गया, पढ़े खबर

खबर शेयर करें

अल्मोड़ा न्यूज। कांग्रेस नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने अंकिता हत्याकांड पर सरकार पर कई आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि सरकार इस मामले पहले से आरोपियों को बचाना चाहती है। इसलिए अंकिता के कमरे में बुलडोजर किसके आदेश पर चलाया गया।

यहां शिखर होटल में पत्रकारों से बात करते हुए टम्टा ने कहा कि अंकिता हत्याकांड में जो लोग शामिल थे, वो लोग बीजेपी के रसूखदार लोग हैं। सिर्फ पैसे का ही नही,राजनैतिक रसूख तक उनकी पकड़ है। आरोप लगाया कि इस मामले को सरकार पहले दिन से छिपाना चाहती थी। जब अंकिता के पिता को जानकारी मिली की उनकी बेटी लापता है तो उन्होंने राजस्व पुलिस और सिविल पुलिस को जानकारी दी। लेकिन दोनों ने उस पर कोई गम्भीरता नहीं दिखाई। यदि इस पर गंभीरता दिखाई होती तो अंकिता की हत्या नहीं होती।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद…पहाड़ का 18 साल का पारस फौज में भर्ती की कर रहा था तैयारी,व्यायाम के दौरान हो गई मौत

टम्टा ने कहा कि पटवारी सिस्टम का सबसे निचला अधिकारी है। उच्च अधिकारी डीएम है। आखिर 4 दिन क्यों लगे कि मामला पुलिस को हैंड ओवर किया गया।

सरकार अभियुक्तों को बचाना चाहती है। उसको मारा गया नहर में फेकने से पहले। इससे बड़ा सवाल उठता है कि सरकार ने आरोपियों को बचाने के लिए काम किया है। बुलडोजर चलाकर सबूत नष्ट किया गया। जिस कमरे में अंकिता रहती थी, उसको ही क्यों तोड़ा गया।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा…. डीएम वंदना का बड़ा फैसला, अब अल्ट्रासाउंड के लिये किया ये काम

पहले ये बात प्रचारित की गई कि मुख्यमंत्री के कहने पर बुलडोजर चला। लेकिन जब कांग्रेस ने सवाल उठाया तो डीएम ने कहा कि हमने बुलडोजर चलाने को आदेश नहीं दिया। यदि सरकार के आदेश पर बुलडोजर नहीं चला था तो वह किसके आदेश पर चला था। हम प्रदेश की सरकार से ये सवाल पूछना चाहते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  नेशनल अवॉर्ड विनिंग लेजेंडरी सिंगर वाणी जयराम का निधन

टम्टा ने कहा कि हर बेटी को आगे बढ़ने का अधिकार है। हर बेटी को नौकरी करने का अधिकार है। लेकिन महिलाओं की सुरक्षा के लिए सरकार को जिम्मेदारी लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह फेल हो चुकी है। सरकर इस ओर ध्यान नहीं दे रही है।

इस मौके पर विधायक मनोज तिवारी, जिला अध्यक्ष पीताम्बर पांडेय, नगर अध्यक्ष पूरन रौतेला, मनोज सतवाल, सिकन्दर पवार, रमेश भाकुनी आदि मौजूद रहे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 सजग पहाड़ के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें, अन्य लोगों को भी इसको शेयर करें

👉 सजग पहाड़ से फेसबुक पर जुड़ें

👉 अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारे इस नंबर +91 87910 15577 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें! धन्यवाद

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments